Hills Headline

जन धन योजना खाता धारकों को मिल रहे हैं इतने पैसे , ऐसे करें आवदेन !

Jan Dhan Account Open: प्रधानमंत्री जन धन योजना खाता धारकों के लिये
बड़ी खबर , इस योजना के
के तहत देश के लगभग 47 करोड़ लोगों ने अकाउंट खुलवाया कराया है. अब सरकार की तरफ इन खाताधारकों को 10 हजार रुपये की राशि ट्रांसफर की जा रही है. इसके लिए आपको बैंक में आवेदन देना होगा. इसके अलावा भी इन खाताधारकों को 1 लाख 30 हजार रुपये का बीमा मिलता है. अगर आपको अभी तक 10 हजार रुपये नहीं मिले हैं तो आप इस तरह से अप्‍लाई कर सकते हैं. आइए जानते हैं इस योजना के बारे में. इसमें खाताधारक को 1 लाख रुपये का एक्सीडेंट इंश्योरेंस दिया जाता है. इसके अलावा आपको लाइफ इंश्योरेंस भी मिलता है. इसमें 30 हजार रुपये की राशि कवर की जाती है. अगर किसी जन धन खाताधारक की मृत्यु दुर्घटना में हो जाती है, तो नॉमिनी को 1 लाख रुपये की इंश्योरेंस राशि मिलती है. जिन लोगों की सामान्य परिस्थिति में मृत्यु होती है तो उन्‍हें 30 हजार रुपये का अमाउंट दिया जाता है.


ऐसे खुलवा सकते हैं अपना जन धन खाता


यदिआप बैंक से 10 हजार रुपये प्राप्‍त करना चाहते हैं तो आपके नाम पर जन धन खाता होना चाहिए. अगर आपने अभी तक इस योजना का खाता नहीं खुलवाया है तो आप बैंक जाकर इस खाते को खुलवा सकते हैं. इस अकाउंट को ओपन कराने की प्रक्रिया बहुत ही आसान है. बैंक इस तरह के अकाउंट सिर्फ आधार कार्ड और PAN कार्ड के आधार पर ही खोल देती है.

ऐसे मिलेंगे आपको 10 हजार रुपये

जनधन खाते पर सरकार की तरफ से खाताधारकों को 10 हजार रुपये की राशि ट्रांसफर की जा रही है. इस अमाउंट को पाने के लिए आपको बहुत ही आसान प्रकिय्रा से गुजरना होगा. आपको बता दें पहले सरकार इन अकाउंट्स पर 5 हजार रुपये का ओवरड्राफ्ट देती थी. वहीं अब इन अकाउंट्स पर 10 हजार रुपये का ओवरड्राफ्ट दिया जा रहा है. इस खाते पर आपको और भी कई फायदे मिलते हैं. जैसे इसमें मिनिमम बैलेंस रखने की टेंशन नहीं होती है. इसमें आपको Rupay डेबिट कार्ड भी दिया जाता है

Hills Headline

उत्तराखंड का लोकप्रिय न्यूज पोर्टल हिल्स हैडलाइन का प्रयास है कि देवभूमि उत्तराखंड के कौने – कौने की खबरों के साथ-साथ राष्ट्रीय , अंतराष्ट्रीय खबरों को निष्पक्षता व सत्यता के साथ आप तक पहुंचाएं और पहुंचा भी रहे हैं जिसके परिणाम स्वरूप आज हिल्स हैडलाइन उत्तराखंड का लोकप्रिय न्यूज पोर्टल बनने जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button