देश-विदेशसमाचार

पहले लगाये पाकिस्तान समर्थन में नारे अब हो गया तगड़ा एक्शन,1 करोड़ से अधिक का हर्जाना देना होगा,आरोपी बोले नानी आ गई याद !

Hills Headline|

उत्तरप्रदेश

यूपी के जौनपुर जिले में करीब दो-तीन हफ्ते पहले पाकिस्तान के समर्थन में कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा की गई नारेबाजी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। 29 जुलाई को निकाले गए दसवीं मुहर्रम के जुलूस में शामिल कुछ लोगों ने जानबूझकर देश विरोधी नारे लगाकर दुश्मन देश पाकिस्तान के प्रति अपना प्रेम प्रदर्शित किया था। पुलिस ने इस मामले में 33 आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया था, और अब इन 33 आरोपितों में से 13 के खिलाफ जिला प्रशासन ने सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे का नोटिस जारी किया है।
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जिला प्रशासन ने शनिवार (12 अगस्त 2023) को एक नोटिस जारी कर सरकारी जमीन से कब्जा हटाने के लिए 15 दिनों की मोहलत दी है। इसके साथ सबको मिला कर कुल 1 करोड़ रुपए का हर्जाना भी लगाया गया है। दरअसल अभी तक ये देखने में आया है, कि ऐसे मामलों में पुलिस-प्रशासन कड़ी चेतावनी अथवा जुर्माना लगाकर आरोपियों को छोड़ देती है, लेकिन इस बार जौनपुर प्रशासन ने इतना सख्त कदम उठाया है, कि आरोपियों के होश फाख्ता हो गए है।

पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाना पड़ा भारी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आरोपियों के नाम अली, ईदू, कैफ, मोहम्मद कैश, मोहम्मद शरीफ, सलीम, दिलशाद, सज्जाक के बेटे संजय, तालिम, नौशाद, मोहम्मद अली, वसीम, अफ़ज़ल
रिपोर्ट्स के अनुसार बता दें कि , जौनपुर जिले में 29 जुलाई को दसवीं मुहर्रम के जुलूस के दौरान सांप्रदायिक माहौल को बिगाड़ने के मामले में बीते बुधवार (9 अगस्त) को राजस्व टीमें आरोपितों की जमीनों की पैमाइश के लिए पहुँचीं। इस दौरान सुरक्षा के मद्देनजर टीम के साथ पुलिस बल को भी तैनात किया गया था। पैमाइश के दौरान ज्ञात हुआ, कि मुहर्रम के जुलूस में पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने वाले 13 आरोपितों ने ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जा किया हुआ है।
जमीन की पैमाइश के बाद शनिवार (12 अगस्त) को मछलीशहर के नायब तहसीलदार संतोष कुमार यादव ने सभी आरोपितों के परिजनों को नोटिस थमा दिया है। इस नोटिस में सरकारी जमीन कब्जाने के सभी 13 आरोपितों को 15 दिनों के भीतर अतिक्रमण स्वयं ही हटा लेने के निर्देश दिए गए है। इसके साथ सबको मिलाकर कुल 1 करोड़ रुपए का हर्जाना भी लगाया गया है। हर्जाने की यह राशि न्यूनतम 32 हजार से अधिकतम 19.80 लाख रुपए के बीच में है।

Hills Headline

उत्तराखंड का लोकप्रिय न्यूज पोर्टल हिल्स हैडलाइन का प्रयास है कि देवभूमि उत्तराखंड के कौने – कौने की खबरों के साथ-साथ राष्ट्रीय , अंतराष्ट्रीय खबरों को निष्पक्षता व सत्यता के साथ आप तक पहुंचाएं और पहुंचा भी रहे हैं जिसके परिणाम स्वरूप आज हिल्स हैडलाइन उत्तराखंड का लोकप्रिय न्यूज पोर्टल बनने जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button