उत्तराखंडसमाचार

अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर पी डी पी एल मजदूर यूनियन ने 11 वे दिन धरना देते हुए कंपनी गेट के आगे मजदूर दिवस मनाया और निकाले गए 41स्थाई मजदूरों को काम पर रखने की मांग की.

सिडकुल, रुद्रपुर

अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर पी डी पी एल मजदूर यूनियन ने 11 वे दिन धरना देते हुए कंपनी गेट के आगे मजदूर दिवस मनाया और निकाले गए 41स्थाई मजदूरों को काम पर रखने की मांग की.
इस दौरान स्थाई मजदूरों को संबोधित करते हुए यूनियन अध्यक्ष प्रकाश सिंह चिलवाल ने कहा कि 100 साल पहले अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस भारत में मनाना शुरू किया गया था. तब मजदूरों के पक्ष में कानून नहीं थे. लेकिन धीरे-धीरे मजदूरों ने अपने हक अधिकारों को लड़कर हासिल किया और अपने पक्ष में कानून बनवाए. लेकिन तमाम संघर्षों के बाद बनाए हुए कानूनों को सरकार खत्म करके श्रम कोड ला रही है. श्रम कोड अभी लागू भी नहीं हुए हैं लेकिन मालिकों ने मजदूरों को हायर एंड फायर नीति के तहत निकालना शुरू कर दिया है. समाज आटोमोटिव कंपनी द्वारा पीडीपीएल के 41 वर्करों को निकालना इस बात का ताजा उदाहरण है.
इस दौरान एक्टू के प्रदेश कोषाध्यक्ष और भाकपा (माले) जिला सचिव ललित मटियाली ने कहा कि जब से मोदी सरकार आई है तब से मजदूर वर्ग पर आफत आ पड़ी है. आए दिन गैरकानूनी तरीके से स्थाई मजदूरों तक को काम से निकाला जा रहा है. मजदूरों के अधिकारों को सुरक्षित रखने के लिए बनाए गए श्रम विभाग भी मजदूर वर्ग के पक्ष में काम नही कर रहे है. सितारगंज सिडकुल में स्थित ज़ाइडस कंपनी, समाज आटोमोटिव कंपनी पंतनगर और खटीमा में कंपनी से निकाले गए मजदूर इस बात का ताजा उदाहरण है. मोदी सरकार ने 44 श्रम कानून खत्म करके चार श्रम कोड बनाए हैं जो कि मजदूर विरोधी हैं. 1886 में अमेरिका के मजदूरों ने पूरी दुनिया के मजदूरों के लिए 8 घंटे काम का नियम लड़ कर लिया था. लेकिन अब चार श्रम कोड के बहाने मोदी सरकार फिर से 12 घंटे काम का नियम ला रही है. जो कि मजदूर वर्ग को गुलामी की ओर धकेल देगा. इन चार श्रम कोड के खिलाफ लड़ाई आज मजदूर वर्ग और मजदूर दिवस की मुख्य लड़ाई बन गई है.
मजदूर दिवस के अवसर पर समाज आटोमोटिव गेट के पास हुई सभा में मांग रखी गई कि 41 स्थायी वर्कर्स को पूर्ववत वापस कंपनी में रखा जाए.
मजदूर दिवस के अवसर पर अरविंद वर्मा,जीवन राम ,जयप्रकाश, शैलेंद्र सिंह, गौरी शंकर, केशव प्रसाद ,धर्मेंद्र पटेल, चरण सिंह, रंजन कुमार ,ललित सिंह रावत, जगदंबिका प्रसाद ,उदय पाल सिंह, ओमप्रकाश ,श्रवण कुमार ,पुरुषोत्तम, राजेश कुमार ,जसवंत कुमार ,यशपाल ,अजीत गंगवार ,लक्ष्मण सिंह, राकेश कुमार ,सत्यपाल सहित 41 वर्कर्स उपस्थित थे।

Hills Headline

उत्तराखंड का लोकप्रिय न्यूज पोर्टल हिल्स हैडलाइन का प्रयास है कि देवभूमि उत्तराखंड के कौने – कौने की खबरों के साथ-साथ राष्ट्रीय , अंतराष्ट्रीय खबरों को निष्पक्षता व सत्यता के साथ आप तक पहुंचाएं और पहुंचा भी रहे हैं जिसके परिणाम स्वरूप आज हिल्स हैडलाइन उत्तराखंड का लोकप्रिय न्यूज पोर्टल बनने जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button