उत्तराखंडसमाचार

भू कानून एवं मूल निवास रहे हैं उक्रांद के मुद्दे ,उत्तराखंड को धर्मशाला बना दिया :- उनियाल

भू कानून एवं मूल निवास रहे हैं उक्रांद के मुद्दे ,उत्तराखंड को धर्मशाला बना दिया :- उनियाल

Hills Headline||

हल्द्वानी, नैनीताल!!

हल्द्वानी में आयोजित भू कानून एवं मूल निवास स्वाभिमान रैली में बड़ी संख्या में आंदोलनकारी और युवाओं ने भागीदारी की। इस रैली में उत्तराखंड क्रांति दल के जुड़े हुए युवाओं की बड़ी संख्या में उपस्थिति से लोग अब एक बार उक्रांद के इस मुद्दे को हाथों-हाथ लेकर उत्तराखंड के लोगों की हित की बात कहते हुए नजर आ रहे हैं। यहां हल्द्वानी में जिला अध्यक्ष दिनेश भट्ट औ रकेंद्रीय महामंत्री सुशील उनियाल के नेतृत्व में डी डी पंत पार्क से एक विशाल जुलूस के रूप में उत्तराखंड क्रांति दल से जुड़े हुए सैकड़ो लोगों ने इस स्वाभिमान रैली में भागीदारी कर इन मुद्दों पर अपना समर्थन व्यक्त करते हुए कहा कि आज जनता एक बार फिर इन मुद्दों की वास्तविकता को समझ रही है कि उत्तराखंड में राज कर रहे राष्ट्रीय दलों ने इन मुद्दों की अनदेखी नहीं की होती तो उन्हें आज सड़कों पर दोबारा नहीं उतरना पड़ता।
उनियाल ने कहा कि राज्य के लोग राज्य बनाकर शिथिल पड़ गए उन्होंने राष्ट्रीय दलों के संशोधनों पर गौर नहीं किया जिसकी वजह से राष्ट्रीय दलों ने भू माफियाओं शराब माफियाओं के साथ मिलकर इन संशोधनों के माध्यम से इन्हें उत्तराखंड में एंट्री देने का काम किया जिसकी वजह से आज उत्तराखंड बर्बादी की कगार पर खड़ा हो रहा है ।अगर समय रहते मूल निवास और भू कानून कड़ाई से लागू नहीं किया गया तो रही सही कसर भी यह राज्य विरोधी राष्ट्रीय दल पूरा कर देंगे उत्तराखंड को लंच-पुंज बनाने में यह लोग अपने राष्ट्रीय आलाकमान के आदेशों का पालन करके यहां के लोगों के हितों के साथ कुठाराघात कर रहे हैं। राज्य की जनता जब भी उक्रांद को यहां की सत्ता सौपेंगी तो सबसे पहले भू कानून और मूल निवास तथा
गैरसैंण को राजधानी घोषित की जाएगी। इस मौके विजया ध्यानी, देवी शर्मा, काजल खत्री, कंचन जोशी ,भावना मेहरा, दिनेश नौटियाल, भुवन चंद जोशी, पार्षद रवि वाल्मीकि गिरीश गिरी गोस्वामी हरीश जोशी राकेश बिष्ट, राम सिंह धामी गोविंद सिंह बिष्ट आनंद सिंह असगोला, मोहन बिष्ट मोहन चंद्र पांडे भानु प्रताप मेहरा भानु प्रताप मेहरा उषा चौहान,जगदीश बौड़ाई, मोहमद फुरकान, मोहन कांडपाल नदी पंचवाड़ी मुस्तकीन, समेत सैकड़ो कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Hills Headline

उत्तराखंड का लोकप्रिय न्यूज पोर्टल हिल्स हैडलाइन का प्रयास है कि देवभूमि उत्तराखंड के कौने – कौने की खबरों के साथ-साथ राष्ट्रीय , अंतराष्ट्रीय खबरों को निष्पक्षता व सत्यता के साथ आप तक पहुंचाएं और पहुंचा भी रहे हैं जिसके परिणाम स्वरूप आज हिल्स हैडलाइन उत्तराखंड का लोकप्रिय न्यूज पोर्टल बनने जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button