उत्तराखंड

शहीद भगत सिंह जी की जयंती पर “शहीद भगत सिंह क्रांति मंच” की स्थापना करी गई एवं हल्द्वानी धरना स्थल बुद्ध पार्क का नाम बदलकर “शहीद भगत सिंह क्रांति पार्क” करने की मांग की गई।

शहीद भगत सिंह जी की जयंती पर “शहीद भगत सिंह क्रांति मंच” की स्थापना करी गई एवं हल्द्वानी धरना स्थल बुद्ध पार्क का नाम बदलकर “शहीद भगत सिंह क्रांति पार्क” करने की मांग की गई।

आज दिनांक 28/9/2022 को हल्द्वानी तिकोनिया बुद्ध पार्क में शहीद भगत सिंह जी की जयंती मनाई गई एवं अन्याय के खिलाफ क्रांति एवं संविधान द्वारा प्राप्त नागरिकों के मौलिक अधिकार की सुरक्षा के उद्देश्य से “शहीद भगत सिंह क्रांति मंच” की स्थापना की गई।

इस दौरान शहीद भगत सिंह क्रांति मंच के संस्थापक युवा पहाड़ी कार्तिक उपाध्याय ने कहा कि बाहरी अंग्रेजो के खिलाफ एक भगत सिंह ने क्रांति की शुरुआत करी और उनके साथ अनेकों युवाओं ने जुड़कर उस क्रांति को व्यापक आंदोलन में बदल दिया,जिस कारण मजबूर होकर अंग्रेजों को भारत छोड़ना पड़ा,आज देवभूमि उत्तराखंड में नागरिकों के मौलिक अधिकार सुरक्षित नहीं है एवं उत्तराखंड की छवि भारतवर्ष में भ्रष्टाचार की भूमि सी बन गई है,जिसके लिए आज शहीद भगत सिंह क्रांति मंच की स्थापना करी जा रही है और आज उत्तराखंड को सिर्फ एक नहीं अनेक भगत सिंह की जरूरत है क्योंकि इस बार लड़ाई बाहरी अंग्रेजों द्वारा नहीं बल्कि अपने भीतर के ही अंग्रेजो के खिलाफ लड़ी जानी है।
वहीं छात्र संगठन यूएसएफ द्वारा भी शहर में शहीद भगत सिंह जी की जयंती के उपलक्ष पर बाइक रैली निकाली गई एवं सभी छात्रों ने बुद्ध पार्क पहुंचकर शहीद भगत सिंह को नमन करते हुए पुष्पांजलि अर्पित की।
आज शहीद भगत सिंह क्रांति मंच द्वारा श्रीमान महापौर महोदय हल्द्वानी को सहायक नगर आयुक्त के माध्यम से एक ज्ञापन दिया गया,इसमें शहीद भगत सिंह क्रांति मंच द्वारा मांग करी गई की हल्द्वानी स्थित धरना स्थल “बुद्ध पार्क” का नाम बदलकर शेर-ए-हिंदुस्तान, क्रांति-कुल-कन्हैया, शौर्य-पुत्र,शहीद-ए-आजम भगत सिंह जी के नाम पर “शहीद भगत सिंह क्रांति पार्क” किया जाए।

कार्तिक उपाध्याय ने कहा कि शहीद भगत सिंह जी द्वारा आंदोलन की एक व्यापक क्रांति की गई जिसका परिणाम 15 अगस्त 1947 को पूरे भारतवर्ष को देखने को मिला और आजाद भारत में भी लगातार सरकार एवं अन्याय के खिलाफ आंदोलन होते ही आए हैं,अन्याय के खिलाफ आंदोलन करना आजाद भारत के नागरिकों का संवैधानिक अधिकार है।
हल्द्वानी जनपद नैनीताल तिकोनिया स्थित बुद्ध पार्क को धरना स्थल बनाया गया है जिसे आज भगत सिंह जी की जयंती के शुभ अवसर पर आंदोलन की इस भूमि का नाम बदलकर “शहीद भगत सिंह क्रांति पार्क” किए जाने का आग्रह महापौर महोदय से किया गया है, ज्ञापन में कहा कि यही नगर निगम हल्द्वानी तथा महापौर हल्द्वानी द्वारा शहीद ए आजम भगत सिंह जी आजादी के असली हीरो को सच्ची श्रद्धांजलि होगी
ज्ञापन देने वालों में पीयूष जोशी, मुकेश,भगवती प्रसाद, रजनी जोशी, महेश चंद्र, चंदन, बबलू, उमेश चंदोला मौजूद थे। वही नाम बदलने की मांग के लिए 29 लोगों ने ज्ञापन में हस्ताक्षर किए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button